टेलेग्राम से जुड़े 👉 यहाँ क्लिक करे
Youtube 👉 यहाँ क्लिक करे

CBSE Exam Pattern : सीबीएसई 10वीं और 12वीं परीक्षा पैटर्न में बड़ा बदलाव.

सीबीएसई ने दसवीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा के लिए प्रश्न पत्र के प्रारूप में बदलाव किया है। लघु और दीर्घ उत्तरीय प्रश्न के अलावा अब वस्तुनिष्ठ प्रश्नों के उत्तर में भी दिमाग लगाना पड़ेगा। बोर्ड परीक्षा में सभी विषयों के पाठ्यक्रम से जुड़े समसामयिक प्रश्न रहेंगे। जो छात्र देश-दुनिया, समाज में चल रहे सम सामयिक घटना से अवगत होंगे, वो इन प्रश्नों के जवाब आसानी से दे सकेंगे।

जो छात्र रट कर परीक्षा देने की तैयारी कर रहे हैं, उन्हें उत्तर देने में मुश्किल होगी। बोर्ड द्वारा इस बार दीर्घ उत्तरीय प्रश्न के अलावा वस्तुनिष्ठ प्रश्न में भी केस स्टडी से जुड़े कई प्रश्न पूछे जाएंगे। अब तक केस स्टडी वाले प्रश्न केवल दीर्घ उत्तरीय प्रश्नों में ही पूछे जाते थे। इसकी जानकारी बोर्ड द्वारा जारी विषयवार सैंपल पेपर में दी गयी है। बोर्ड की मानें तो परीक्षार्थियों को समय से इसकी जानकारी मिल सके इसके लिए सैंपल पेपर के माध्यम से यह बताया गया है।

मालूम हो कि 10 वीं और 12वीं में कई सेक्शन में प्रश्न पूछे जाएंगे। इसमें पहला सेक्शन वस्तुनिष्ठ प्रश्नों का रहेगा। वस्तुनिष्ठ प्रश्न में दस प्रश्न बहुवैकल्पिक प्रकार के होंगे। इसमें चार विकल्प दिये जाएंगे। इसमें तीन से चार प्रश्न केस स्टडी से जुड़ा होगा। बोर्ड की मानें तो 10वीं और 12वीं के सभी विषयों में इस बार 10 से 20 प्रश्न बहुवैकल्पिक प्रकार के होंगे। इसमें केस स्टडी पर आधारित प्रश्न भी रहेगा। 12वीं में जिन विषयों की परीक्षा 70 अंक की होगी, उसमें 16 अंक का प्रश्न बहुवैकल्पिक रहेगा। वहीं जिन विषयों की परीक्षा 80 अंक की होगी, उसमें 18 प्रश्न बहुवैकल्पिक प्रकार के होंगे। बोर्ड द्वारा इस बार लघु और दीर्घ उत्तरीय प्रश्नों में 20 फीसदी का विकल्प दिया गया है। इसमें छात्रों को विकल्प मिलेगा। अगर कोई प्रश्न का उत्तर उन्हें नहीं आता हो तो वो किसी दूसरे प्रश्न का उत्तर दे सकेंगे।

ऐसा प्रश्न जो किसी रिसर्च, डेटा या ग्राफ आधारित होता है। इस रिसर्च से जुड़े कुछ प्रश्न दिए जाएंगे। ये प्रश्न चैप्टर के ही होते हैं लेकिन इसके उत्तर देने के लिए छात्रों को थोड़ा दिमाग लगाना होगा। शिक्षिका आभा चौधरी ने बताया कि केस स्टडी में अधिकतर समसामयिक से जुड़े प्रश्न रहेंगे। जैसे, यदि कोरोना की बात करें तो इससे जुड़े किसी रिसर्च को डाल दिया जायेगा। इसमें कोरोना संक्रमण से जुड़े कई प्रश्न रहेंगे। ये प्रश्न जीवविज्ञान के चैप्टर से जुड़े रहेंगे। जिसका उत्तर छात्रों को थोड़ा दिमाग लगाकर देना होगा। जैसे प्रदूषण का कोई ग्राफ दे दिया जायेगा। इस ग्राफ की मदद से प्रदूषण बढ़ने आदि से संबंधित प्रश्न रहेगा। यह प्रश्न सामाजिक विज्ञान, रसायन विज्ञान के चैप्टर से जुड़े होंगे।

पांच सेक्शन में रहेगा प्रश्न :

बोर्ड ने सभी परीक्षार्थियों को स्पष्ट कर दिया है कि इस बार 10वीं और 12वीं के सिलेबस में कोई कटौती नहीं की गयी है। पूरे सिलेबस से प्रश्न रहेगा। वहीं हर विषय में पांच सेक्शन में प्रश्न पूछा जायेगा। पहला सेक्शन वस्तुनिष्ठ प्रश्न, दूसरा सेक्शन वेरी शॉट प्रश्न, तीसरा सेक्शन लघु उत्तरीय प्रश्न, चौथा सेक्शन दीर्घ उत्तरीय प्रश्न और पांचवां सेक्शन केस स्टडी से जुड़े प्रश्नों का होगा। इसमें तीन प्रश्न पूछे जाएंगे।

अपने दोस्तों को भी शेयर करे
टेलेग्राम से जुड़े 👉 यहाँ क्लिक करे
Youtube 👉 यहाँ क्लिक करे
टेलेग्राम से जुड़े 👉 यहाँ क्लिक करे
Youtube 👉 यहाँ क्लिक करे

Leave a Comment