धर्मशाला: TGT नॉन मेडिकल के लिए 7203 अभ्यर्थियों ने दिया टेट

सार

टीजीटी नॉन मेडिकल के लिए 66 परीक्षा केंद्र बनाए गए थे, जिनमें 7203 अभ्यार्थियों ने परीक्षा दी।

हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड ने रविवार को टीजीटी नॉन मेडिकल और भाषा अध्यापक विषय के लिए अध्यापक पात्रता परीक्षा का आयोजन किया। इस दौरान टीजीटी नॉन मेडिकल के लिए 66 परीक्षा केंद्र बनाए गए थे, जिनमें 7203 अभ्यार्थियों ने परीक्षा दी। वहीं दूसरे सत्र में आयोजित भाषा अध्यापक विषय की परीक्षा के लिए प्रदेश भर में 41 परीक्षा केंद्र बनाए गए थे, जिसमें 4378 परीक्षार्थियों ने परीक्षा दी।

वहीं 21 नवंबर को होने वाली जेबीटी की अध्यापक पात्रता परीक्षा के लिए 7,798 अभ्यर्थियों के लिए 68, जबकि टीजीटी मेडिकल के 5,551 अभ्यर्थियों के लिए 51 परीक्षा केंद्र बनाए हैं। इसके अलावा 28 नवंबर को होने वाले पंजाबी विषय की टेट के लिए 218 अभ्यर्थियों के लिए एक और उर्दू के 26 अभ्यर्थियों के लिए भी एक परीक्षा केंद्र बनाया गया है।

प्रदेश कर्मचारी चयन आयोग हमीरपुर ने रविवार को डाटा एंट्री ऑपरेटर और फायरमैन की लिखित परीक्षा प्रदेशभर में आयोजित की। दोनों पोस्ट कोड के लिए सुबह और शाम के सत्र में 48 सेंटर बनाए गए थे। डाटा एंट्री ऑपरेटर पोस्ट कोड 924 के पदों को भरने के लिए 6192 अभ्यर्थियों को कॉल लेटर जारी किए गए थे।

लिखित परीक्षा प्रदेशभर के सभी जिला मुख्यालयों के 33 सेंटरों में सुबह 10 से 12 बजे तक आयोजित की गई। वहीं, फायरमैन पोस्ट कोड 916 के पदों को भरने के लिए 2918 अभ्यर्थियों को कॉल लेटर जारी किए गए थे। शाम के सत्र में यह परीक्षा प्रदेश के चार जोन हमीरपुर, कांगड़ा, मंडी और शिमला में 15 सेंटरों में दो से चार बजे तक आयोजित की गई।

अभ्यर्थियों को परीक्षा में एक घंटा पूर्व पहुंचने के निर्देश थे। परीक्षा केंद्रों में परीक्षा को लेकर पुख्ता प्रबंध किए गए थे। प्रदेश कर्मचारी चयन आयोग हमीरपुर के सचिव डॉ. जितेंद्र कंवर ने कहा कि डाटा एंट्री ऑपरेटर और फायरमैन की लिखित परीक्षा सभी परीक्षा केंद्रों में शांतिपूर्ण ढंग से आयोजित हुई।

ऐसे ही पोस्ट पढ़ने के लिए वेबसाइट resultsinfo99.in , search करे।